होम कानपुर उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड बिहार नई दिल्ली राजनीति मध्यप्रदेश खेल-कूंद लखनऊ संपर्क
 
  1. आजमगढ़ में पुलिस मुठभेड़, दो ईनामी बदमाशों और एक सिपाही को लगी गोली
  2.      
  3. ब्रेकिंग कल्यानपुर थाना क्षेत्र के कल्यानपुर क्रॉसिंग पर बुजुर्ग की एक्सीडेंट से मौत
  4.      
  5. आजमगढ़ जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष भारी फोर्स जेल में घुसी
  6.      
 
 
आप यहां है - होम  »  लखनऊ  »  विवेक तिवारी हत्याकांड में आया नया मोड़
 
विवेक तिवारी हत्याकांड में आया नया मोड़
Posted By- Pramod srivastava Updated: 3/12/2019 11:11:10 PM

लखनऊ. राजधानी के गोमतीनगर में हुए विवेक तिवारी हत्या मामले में नया मोड़ आ गया। पूर्व में कोर्ट द्वारा क्लीन चिट दिए जाने वाले सिपाही संदीप कुमार को कोर्ट ने झटका दिया है। कोर्ट ने हत्या के सह-आरोपी सिपाही संदीप कुमार को जांच में क्लीन चिट देने संबंधी एसआईटी की रिपोर्ट को खारिज कर दिया है। यहीं नहीं उसे हत्या का आरोपी बताते हुए 22 मार्च तक आत्मसमर्पण करने के आदेश दिए हैं। दरअसल एसआईटी ने अपनी जांच में विवेक तिवारी हत्या मामले में संदीप को सिर्फ मारपीट का आरोपी बनाया था, जिसे देखते हुए उसे जेल से रिहा कर दिया गया था। इसी एसआईटी रिपोर्ट को विवेक की पत्नी कल्पना ने चुनौती देते हुए कोर्ट में अर्जी दी थी, जिसकी सुनवाई करते हुए गुरुवार को कोर्ट ने संदीप को आत्मसमर्पण करने के आदेश दिए हैं। कोर्ट ने सुनवाई के दौरान करा कि कहा कि घटना की एकमात्र गवाह के बयान से यह पता चलता है कि संदीप और प्रशांत चौधरी गुस्से में चिल्लाते हुए गलत दिशा से विवेक की गाड़ी की तरफ आए। कार के बोनट पर संदीप ने डंडा मारा फिर इसी डंडे से कार के अंदर बैठी विवेक की पूर्व सहकर्मी सना के हाथ पर तेजी से हमला किया। घटना स्थल से मिले सुबूतों से मालूम होता है कि संदीप ने प्रशांत को विवेक की हत्या के लिए उकसाया व हत्या को आसान बनाने के लिए प्रशांत की सामान्य आशय से सहायता भी की। यही नहीं, विवेक की हत्या के वक्त संदीप घटनास्थल पर ही मौजूद था, लिहाजा उसके खिलाफ हत्या का मामला चलाने का पर्याप्त आधार है। फिलहाल संदीप कुमार धारा 323 आइपीसी के अपराध में जमानत पर है। अब कोर्ट ने उसे नियत तिथि पर अदालत में आत्मसमर्पण करने के आदेश दिया है।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
पुलिस थाने के बाहर खड़ी गाड़ियों में अचानक लगी आग, पुलिसकर्मियों में मचा हड़कंप
यूपी में भाजपा को मिला इन पांच दलों का समर्थन, डिप्टी सीएम ने दिया बड़ा बयान
भार्इ की मुजफ्फरनगर दंगों में हुर्इ थी हत्या
अखिलेश यादव ने कहा- चुनाव से पहले डीजीपी ओपी सिंह को हटाएं
पुलिसकर्मियों ने लूटे 1.58 करोड़ रुपए, 2 दरोगा सस्पेंड
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Live UP News 24 | Privecy policy | Disclimer Powered By :