होम कानपुर उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड बिहार नई दिल्ली राजनीति मध्यप्रदेश खेल-कूंद लखनऊ संपर्क
 
  1. आजमगढ़ में पुलिस मुठभेड़, दो ईनामी बदमाशों और एक सिपाही को लगी गोली
  2.      
  3. ब्रेकिंग कल्यानपुर थाना क्षेत्र के कल्यानपुर क्रॉसिंग पर बुजुर्ग की एक्सीडेंट से मौत
  4.      
  5. आजमगढ़ जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष भारी फोर्स जेल में घुसी
  6.      
 
 
आप यहां है - होम  »  लखनऊ  »  भार्इ की मुजफ्फरनगर दंगों में हुर्इ थी हत्या
 
भार्इ की मुजफ्फरनगर दंगों में हुर्इ थी हत्या
Posted By- Mahesh kumar Updated: 3/12/2019 10:05:47 PM

मुजफ्फरनगर।मुजफ्फरनगर के कस्बा खतौली में शाम ढलते ही उस समय हड़कंप मच गया।जब बाइक सवार तीन हथियारबंद बदमाशों ने भरे बाजार में मुजफ्फरनगर दंगों में मारे गये शख्स के भार्इ की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी।जब तक लोग कुछ समझपाते बदमाश मौके से फरार हो गये।आवाज सुनकर आसपास के लोग इकट्ठा हो गये और घायल को आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया।जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी।हत्या का कारण पुरानी रंजिश बताया जा रहा है। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और मामले की छानबीन में जुट गई है। वहीं चर्चा है कि आशिफ मुजफ्फरनगर दंगों का गवाह था। मामला थाना खतौली कोतवाली क्षेत्र का है। जहां एनएच-58 पर इंदिरा गांधी की मूर्ति के निकट एक दूध कारोबारी की बाइक सवार तीन बदमाशों ने उस समय गोलियों से भूनकर हत्या कर दी। जब दूध कारोबारी अशफाक पुत्र अख्तर निवासी खेड़ी तगान गांव से दूध लेकर खतौली में एक डेयरी पर लेकर पहुंचा।और जैसे ही अशफाक ने अपनी मोटरसाइकिल खड़ी की तो पीछे से आए बाइक सवार तीन बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ गोलियों चला दी।इससे वह जमीन पर गिर गया।गोलियों की आवाज सुनकर लोगों को आता देख आरोपी बाइक सवार फरार हो गये।वहीं लोगों ने घायल को आनन-फानन में सीएचसी खतौली में भर्ती कराया।जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा को भी खंगाल रही है। वहीं सूत्रों की मानें तो मृतक अशफाक के दो भाइयों शाहिद और नवाब की मुजफ्फरनगर में हुए 2013 में सांप्रदायिक दंगों के दौरान हत्या कर दी गर्इ थी। जो मामला कोर्ट में चल रहा है। बताया जा रहा है कि आशिफ गवाह भी था। हत्या का कारण इसी रंजिश को माना जा रहा है। हालांकि इसमें पुलिस छानबीन के बाद ही किसी नतीजे पर पहुंचने की बात कर रही है।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
पुलिस थाने के बाहर खड़ी गाड़ियों में अचानक लगी आग, पुलिसकर्मियों में मचा हड़कंप
यूपी में भाजपा को मिला इन पांच दलों का समर्थन, डिप्टी सीएम ने दिया बड़ा बयान
विवेक तिवारी हत्याकांड में आया नया मोड़
अखिलेश यादव ने कहा- चुनाव से पहले डीजीपी ओपी सिंह को हटाएं
पुलिसकर्मियों ने लूटे 1.58 करोड़ रुपए, 2 दरोगा सस्पेंड
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Live UP News 24 | Privecy policy | Disclimer Powered By :