होम कानपुर उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड बिहार नई दिल्ली राजनीति मध्यप्रदेश खेल-कूंद लखनऊ संपर्क
 
  1. आजमगढ़ में पुलिस मुठभेड़, दो ईनामी बदमाशों और एक सिपाही को लगी गोली
  2.      
  3. ब्रेकिंग कल्यानपुर थाना क्षेत्र के कल्यानपुर क्रॉसिंग पर बुजुर्ग की एक्सीडेंट से मौत
  4.      
  5. आजमगढ़ जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष भारी फोर्स जेल में घुसी
  6.      
 
 
आप यहां है - होम  »  लखनऊ  »  पुलिसकर्मियों ने लूटे 1.58 करोड़ रुपए, 2 दरोगा सस्पेंड
 
पुलिसकर्मियों ने लूटे 1.58 करोड़ रुपए, 2 दरोगा सस्पेंड
Posted By- Ashish Srivastava Updated: 3/10/2019 1:05:17 PM

 राजधानी लखनऊ से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां गोसाईंगंज थाने के दो दरोगा पवन मिश्रा व आशीष तिवारी पर एक कोयला व्यापारी के घर छापा मारने के दौरान करीब 1 करोड़ 58 लाख रुपए लेकर फरार होने का आरोप लगा है। इस घटना के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी जांच के आदेश देते हुए बताया कि दोनों आरोपियों पर लूट का केस दर्ज किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शनिवार को ओमेक्स सिटी के फ्लैट नंबर 104 में रह रहे सुल्तानपुर निवासी कोयला और ट्रेडिंग व्यापारी अंकित अग्रहरि ने बताया कि करीब 7 लोगों मेरे कमरे दाखिल हुए इनमें 2 लोग पुलिस की वर्दी में थे। इसके बाद इन लोगों ने फ्लैट में मौजूद कारोबारियों को हिरासत में लेकर 1 करोड़ 58 लाख रुपए अपने कब्जे में ले लिया। दोनों वर्दीधारी धमकी देते हुए कि फ्लैट में रखा ये पैसा काला धन है और युवकों को जेल भी जाना पड़ सकता है, कहकर हुए फरार हो गए। पीड़ित अंकित का बयान- व्यापारी अंकित अग्रहरि ने बताया कि कमरे में घुसे लोगों ने एक बक्से में रुपए भरे और मधुकर उसे लेकर फ्लैट से निकल गया। इस दौरान विरोध करने पर सभी को बुरी तरह पीटा गया। इसके बाद पवन और आशीष सभी को बाकी रकम और पिस्टल के साथ थाने ले आए। लेकिन बड़ी रकम देखकर पुलिस ने आयकर विभाग को सूचना दी। जब आयकर विभाग के अधिकारी थाने पहुंचे तो अंकित ने बताया कि फ्लैट में 3.38 करोड़ रुपये रखे थे और उसे यह रकम बांदा में अपने खदान पर पहुंचानी थी। लेकिन पुलिस ने एक बक्से से काफी रकम लूट ली। गिनती करने पर दोनों बक्सों में करीब 1.58 करोड़ रुपये ही मिले। क्या बोले एसएसपी के नैथानी- गोसाईंगंज थाने के दो दरोगाओं पर व्यापारी से लूट का आरोप लगने के बाद एसएसपी के. नैथानी ने कहा कि मामले में दरोगा समेत 3-4 अन्य लोगों पर लूट का मुकदमा दर्ज किया गया है। मामले की जांच की जा रही है। गोसाईंगंज के एसओ का बयान- मामले में एसओ गोसाईंगंज ने बताया कि मुखबिर मधुकर ने व्यापारी अंकित के फ्लैट में अवैध रकम होने की जानकारी दी थी। इसके बाद दरोगा आशीष ने उन्हें जानकारी देने की बजाय एसआई पवन और अपने सहयोगियों के फ्लैट में दाखिल हुआ था। बाकी लोग सादे कपड़ों में जबकि आशीष ने वर्दी पहन रखी थी।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
पुलिस थाने के बाहर खड़ी गाड़ियों में अचानक लगी आग, पुलिसकर्मियों में मचा हड़कंप
यूपी में भाजपा को मिला इन पांच दलों का समर्थन, डिप्टी सीएम ने दिया बड़ा बयान
विवेक तिवारी हत्याकांड में आया नया मोड़
भार्इ की मुजफ्फरनगर दंगों में हुर्इ थी हत्या
अखिलेश यादव ने कहा- चुनाव से पहले डीजीपी ओपी सिंह को हटाएं
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Live UP News 24 | Privecy policy | Disclimer Powered By :