होम कानपुर उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड बिहार नई दिल्ली राजनीति मध्यप्रदेश खेल-कूंद लखनऊ संपर्क
 
  1. आजमगढ़ में पुलिस मुठभेड़, दो ईनामी बदमाशों और एक सिपाही को लगी गोली
  2.      
  3. ब्रेकिंग कल्यानपुर थाना क्षेत्र के कल्यानपुर क्रॉसिंग पर बुजुर्ग की एक्सीडेंट से मौत
  4.      
  5. आजमगढ़ जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष भारी फोर्स जेल में घुसी
  6.      
 
 
आप यहां है - होम  »  उत्तर प्रदेश  »  गोरखनाथ मंदिर घेरने जा रहे सांसद पर पुलिस ने बरसाईं ताबड़तोड़ लाठियां
 
गोरखनाथ मंदिर घेरने जा रहे सांसद पर पुलिस ने बरसाईं ताबड़तोड़ लाठियां
Posted By- Ashish Srivastava Updated: 3/8/2019 1:19:05 PM

गोरखपुर: निषाद बिरादरी को एससी कैटेगरी का आरक्षण दिलाने की मांग को लेकर सड़क पर उतरी निषाद राज पार्टी के कार्यकर्ताओं पर गोरखपुर पुलिस ने आज जमकर लाठियां बरसाई हैं. उन्हें रोकने के लिए आंसू गैस के गोले भी छोड़े तो पानी की बौछार का भी प्रयोग किया. यहां तक की पुलिस ने गोरखपुर के मौजूदा सांसद इंजीनियर प्रवीण निषाद को भी नहीं बख्शा और उन पर भी कई लाठियां बरसा दीं. 'निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल' के नाम से राजनीतिक पार्टी के रूप में काम कर रही 'निषाद पार्टी' यूपी सरकार के द्वारा निषादों को एससी कैटेगरी का आरक्षण न देने से नाराज चल रही थी. इसलिए उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर संजय निषाद की अगुआई में आज दिन में एक विशाल जनसभा होने के बाद यह लोग मुख्यमंत्री के गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में बने कैंप कार्यालय को घेरने जा रहे थे. पुलिस ने इन्हें बीच में रोकने का प्रयास किया और जब यह नहीं माने तो जमकर लाठियां बरसा दीं. यहां तक की पुलिस ने गोरखपुर के मौजूदा सांसद इंजीनियर प्रवीण निषाद को भी नहीं बख्शा और उन पर भी कई लाठियां बरसाईं. निषाद पार्टी के इस अभियान पर पुलिस की पैनी नजर थी. क्योंकि शहर के भगवानपुर क्षेत्र में मंदिर घेरने से पहले पार्टी का विशाल कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें कार्यकर्ताओं के अंदर आरक्षण की मांग को लेकर पार्टी के नेता उत्साह भरने का कार्य कर रहे थे. उनका कहना था कि निषाद बिरादरी को दलित समुदाय का आरक्षण मिले इसका आदेश हाईकोर्ट ने भी दे रखा है, लेकिन प्रदेश की योगी सरकार इसे लागू नहीं कर रही है. शाम 4:00 बजे के करीब निषाद पार्टी के लोग सड़क पर उतरकर मंदिर की ओर चल दिए. पुलिस प्रशासन सतर्क था लिहाजा रोकने की पूरी कोशिश हुई, लेकिन जब यह लोग नहीं माने तो फिर वही हुआ जो पुलिस करती है. उसने इन लोगों पर अपनी जमकर लाठियां बरसाईं, जिसके शिकार महिला और पुरुष सभी हुए. यहां तक की पुलिस की लाठी ने मौजूदा सांसद इंजीनियर प्रवीण निषाद को भी नहीं बख्शा और उन पर भी लाठियां तोड़ दीं. 

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर रोडवेज बस में लगी आग, 4 यात्रियों की मौत
होली मिलन समारोह एवं सांस्कृतिक संध्याका आयोजन
होली से पहले पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, अवैध शस्त्र फैक्ट्री का हुआ भंडाफोड़
सीसीटीवी में हुआ खुलासा-
स्वच्छता के मामले में यूपी के टॉप- 11 में शामिल है यह शहर
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Live UP News 24 | Privecy policy | Disclimer Powered By :