होम कानपुर उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड बिहार नई दिल्ली राजनीति मध्यप्रदेश खेल-कूंद लखनऊ संपर्क
 
  1. आजमगढ़ में पुलिस मुठभेड़, दो ईनामी बदमाशों और एक सिपाही को लगी गोली
  2.      
  3. ब्रेकिंग कल्यानपुर थाना क्षेत्र के कल्यानपुर क्रॉसिंग पर बुजुर्ग की एक्सीडेंट से मौत
  4.      
  5. आजमगढ़ जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष भारी फोर्स जेल में घुसी
  6.      
 
 
आप यहां है - होम  »  उत्तर प्रदेश  »  मोबाइल व पैसा छीनने का विरोध करने पर बदमाशों ने मारी थी छात्र को गोली
 
मोबाइल व पैसा छीनने का विरोध करने पर बदमाशों ने मारी थी छात्र को गोली
Posted By- Ashish Srivastava Updated: 3/6/2019 6:32:14 PM

वाराणसी. फुलवरिया में 19 फरवरी को छात्र को गोली मारे जाने की घटना को कैंट पुलिस ने खुलासा कर लिया है। बुधवार को ट्रेनी आईपीएस व सीओ कैंट डा.अनिल कुमार ने बताया कि मोबाइल व पैसा छीनने का विरोध करने पर ही बदमाशों ने छात्र को गोली मारी थी। पुलिस ने दो बदमाशों को पकड़ लिया है, जिसमे एक 15 हजार का इनामिया बदमाश गौरव सिंह भी शामिल है। जबकि तीसरा बदमाश फरार हो गया है, जिसकी तलाश में दबिश जारी है। कैंट सीओ डा.अनिल कुमार ने बताया कि 19 फरवरी को फुलवरिया के डिफेन्स कॉलोनी के फायरिंग रेंज के पास गोली मार कर अमित कुमार को घायल कर दिया था। सूचना पर पहुंची पुलिस ने इस मामले की जंाच शुरू की थी। कैंट थाना प्रभारी विजय बहादुर सिंह को मुखबिर से सूचना मिली कि छात्र को गोली मारने वाले बदमाश कैंटोमेंट में किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में खड़े हैं। कैंट पुलिस ने अपने साथ मुखबिर को लिया और मौके पर पहुंच गयी। मुखबिर से इशारा से बताया कि बाइक पर दो लोग सवार है वही बदमाश है। इस पर पुलिस ने उन्हें रोकने का इशारा किया तो बदमाशों ने फायरिंग कर दी। पुलिस ने घेराबंदी करके दोनों बदमाशों को पकड़ लिया। तलाशी में बदमाश के पास तलाशी ली तो एक पिस्टल, कारतूस, लूट का मोबाइल बरामद हुआ है। पुलिस पूछताछ में बदमाशों ने अपना नाम गौरव सिंह व निखिल सिंह निवासी चौबेपुर बताया है। लूट का विरोध करने पर बदमाशों ने मारी थी छात्र को गोली कैंट सीओ डा.अनिल कुमार ने बताया कि गौरव सिंह के पिता नेवी में नौकरी करते हैं और वह डिफेंस कॉलोनी, फुलवरिया में रह कर पढ़ाई करता था। दूसरों पर रौब जमाने के लिए वह लूट व छिनैती करने लगा था। गौरव पर विभिन्न थानों में सात मुकदमे दर्ज है जिसमे से चार मुकदमे हत्या के प्रयास के हैं। पुलिस के अनुसार 19 फरवरी को गौरव, निखिल व तीसरा फरार बदमाश रंजीत सिंह ने छात्र से मोबाइल व पैसा लूटा था, जिसका विरोध करने पर ही तीनों ने छात्र को गोली मारी थी। अपराधियों को पकडऩे में कैंट थाना प्रभारी के अतिरिक्त अशोक कुमार, अजीत कुमार, धर्मदेव चौहान, रामानंद यादव आदि पुलिसकर्मी शामिल थे। यह भी 

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर रोडवेज बस में लगी आग, 4 यात्रियों की मौत
होली मिलन समारोह एवं सांस्कृतिक संध्याका आयोजन
होली से पहले पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, अवैध शस्त्र फैक्ट्री का हुआ भंडाफोड़
सीसीटीवी में हुआ खुलासा-
स्वच्छता के मामले में यूपी के टॉप- 11 में शामिल है यह शहर
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Live UP News 24 | Privecy policy | Disclimer Powered By :