होम कानपुर उत्तर प्रदेश उत्तराखण्ड बिहार नई दिल्ली राजनीति मध्यप्रदेश खेल-कूंद लखनऊ संपर्क
 
  1. आजमगढ़ में पुलिस मुठभेड़, दो ईनामी बदमाशों और एक सिपाही को लगी गोली
  2.      
  3. ब्रेकिंग कल्यानपुर थाना क्षेत्र के कल्यानपुर क्रॉसिंग पर बुजुर्ग की एक्सीडेंट से मौत
  4.      
  5. आजमगढ़ जेल में कैदियों के बीच खूनी संघर्ष भारी फोर्स जेल में घुसी
  6.      
 
 
आप यहां है - होम  »  कानपुर  »  महिला IPS की पहल पर कानपुर में महिलाओं के लिए पहली 'पिंक' चौकी, तुरंत मिलेगा न्य
 
महिला IPS की पहल पर कानपुर में महिलाओं के लिए पहली 'पिंक' चौकी, तुरंत मिलेगा न्य
Posted By- Ashish Srivastava Updated: 3/5/2019 11:33:58 PM

 कानपुर में महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों से निपटने के लिए तेज तर्रार महिला आईपीएस और कानपुर दक्षिण की एसपी रवीना त्यागी ने एक नई पहल की है। इस नई पहल में उन्होंने अपने ही पुराने कार्यालय में पिंक चौकी बनाने का निर्णय लिया है। पिंक चौकी बनाई जा रही है। एसएसपी कानपुर अनंत देव ने बताया कि इस पिंक चौकी में महिलाओं से जुड़ी सभी प्रकार की समस्याओं को चौकी से ही सुलझाने का प्रयास किया जाएगा, जिसमें महिला दरोगा की भी तैनाती की जाएगी। जो महिलाएं महिला थाने नहीं पहुंच सकती हैं वो शहर के किदवई नगर क्षेत्र में स्थित पिंक चौकी जाकर न्याय की गुहार लगा सकती हैं। उन्होंने बताया​ कि इसी चौकी से एंटी रोमियो स्क्‍वायड को भी जोड़ा गया है, जिससे महिलाओं के साथ हो रही घटनाओं और उत्पीड़न के मामलों पर रोक लगायी जा सकती है। चौकी को पिंक कलर से रंगा गया है और जो 1090 को गाड़िया हैं, उनको भी पिंक रंग में रंगा गया है। चौकी में पूरा स्टाफ महिलाओं का ही होगा। इसे लागू करने के लिए दक्षिण के 25 संवेदनशील इलाकों को चिन्हित किया गया है। इसमें समाज सेवी संगठनों, और मीडिया और सोशल मीडिया से भी जोड़ा गया है। पीड़ितों के लिए 1090 के साथ-साथ चौकी का अलग से सीयूजी नंबर 7839863003 भी दिया गया है। ये नंबर सभी सोशल मीडिया पर भी उपलब्ध है, जिससे लोग आसानी से अपनी समस्याओं को बता सकते हैं। बता दें, इस चौकी से सबसे ज्यादा कानपुर दक्षिण के लोगों को फायदा मिलेगा, क्योंकि शहर के दक्षिण इलाके से महिला थाने की दूरी लगभग 20 किलोमीटर है।वहीं, घाटमपुर थाना और सजेती थाने की बात करें तो ये दूरी लगभग 50 से 60 किलोमीटर हो जाती है, जहां तक आम लोगों का पहुंच पाना नामुमकिन हो जाता है, लेकिन इस चौकी के अस्तित्व में आने के बाद ये दूरी मात्र 30 से 35 किलोमीटर भी बचेगी। शहर और हाइवे से लिंक रोड होने के चलते पीड़ित इस चौकी तक आसानी से पहुंच सकते हैं। वहीं, इस चौकी के खुलने से शहर की आम महिलाओं में भी खुशी की लहर है और उनका भी ये मानना है कि जिस तरह से आए दिन महिलाओं से शोहदे छेड़छाड़ करते है उसमें बहुत हद तक राहत मिलेगी।

Share this :
   
State News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए HNS के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
 
प्रमुख खबरे
रंग लगाने का किया विरोध, दरिंदों ने दंपति को पीट पीट कर उतारा मौत के घाट
एसएसपी स्वाट टीम को मिली बड़ी कामयाबी
भारत में होली जैसे पवन पर्व और चुनाव के माहौल के चलते धारा 144 का ध्यान देते हुए
बिधनू थाना क्षेत्र में पुलिस ने चलाया अवैध शराब का अभियान
तेज रफ्तार ट्रक ने साइकिल सवार दो युवकों को टक्कर मार दी जिससे दोनों की मौके पर
 
 
 
Copyright © 2016. all Right reserved by Live UP News 24 | Privecy policy | Disclimer Powered By :